Category Archives: Quotes

सफलता और असफलता

बड़े सपनो को पाने वाले हर व्यक्ति को सफलता और असफलता के कई पड़ावों से गुजरना पड़ता है ☄ पहले लोग मजाक उड़ाएंगे, ☄ फिर लोग साथ छोड़ेंगे, ☄ फिर विरोध करेंगे फिर वही लोग कहेंगे हम तो पहले से ही जानते थे की एक न एक दिन तुम कुछ बड़ा करोगे रख हौंसला वो […]

वापस लौटने का मन करता है

बस एक बार वापस लौटने का मन करता है | आज हर वो दिन जीने को मन करता है | कुछ बुरी बातें जो अब अच्छी लगती हैं | कुछ बातें जो कल की ही बातें लगती हैं | अबकी बार क्लास अटेंड करने का मन करता है | दोपहर की क्लास में आखें बंद […]

Apni Keemat

Awesome life quotes in Hindi  

Art of Life

Art of Life जीवन में विपत्ति आना “पार्ट ऑफ़ लाइफ” है विपत्ति में भी मुस्करा कर शांति से बाहर निकलना “आर्ट ऑफ़ लाइफ” है ।

Ek succha dost

एक सच्चा दोस्त, उचित सलाह देता है,  सहजता से मदद करता है, आसानी से जोखिम उठता है, सबकुछ धैर्यपूर्वक सहता है, हिम्मत से बचाव करता है और बिना बदले दोस्ती बरक़रार रखता है। ******* किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी और  दुष्ट मित्र से ज्यादा डरना चाहिए, जानवर तो बस आपके शरीर को नुकसान […]

कामयाबी और नाकामयाबी

कामयाबी और नाकामयाबी दोनों ज़िन्दगी के हिस्से हैं। दोनों ही स्थायी नहीं हैं । *********** भगवान, हमारे निर्माता ने हमारे मष्तिष्क और व्यक्तित्व में असीमित शक्तियां और क्षमताएं दी हैं। ईश्वर की प्रार्थना हमें इन शक्तियों को विकसित करने में मदद करती है। *********** क्रोध से भ्रम पैदा होता है। भ्रम से बुद्धि व्यग्र होती […]

Intezar Kyo Hota

Bheegte Rehte hai baarish mein Aksar, Kabhi Maangi kisi Se Panaah Nahi. Hasrate Puri Na ho to Na Sahi, Khwaab dekhna to koi Gunaah Nhi. Wo nahi ata uska intezar kyo hota hai kisi ke liye apna ye hal kyu hota hai yu to duniya me kafi log pyare hai par jo nahi milta usi […]

आईने के सामने

आईने के सामने खड़े होकर खुद से माफ़ी मांग ली मैंने। सबसे ज्यादा अपना ही दिल दुखाया है, सबको खुश करते करते।

Badal Gaye The

Dhoondh to lete un doston ko hum bhi, Shehar me bheed itni bhi na thi sahab, Par rok di talash hamne, kyonki wo khoye nahi, badal gaye the

न जाने उनकी क्या मजबूरी थी

वो छोड़ के गए हमें; न जाने उनकी क्या मजबूरी थी; खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं; ये कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी। *********************** मिज़ाज़ अलग है बस ग़ुरूर नहीं है। फ़िर वो दरिया ही क्या जिसमें सुरूर नहीं है। फ़क़त इल्ज़ाम लगे तोहमतों से दो चार हुए। बस यहाँ एक […]