उनकी जहाँ से निराली है अदा

उनकी जहाँ से निराली है अदा |
अंदाज़ उनके है यारो सबसे जुदा ||
खफा हो जाए तोह क़ातिल से कम नहीं |
मेहरबान हो जाएँ तोह लगते हैं खुदा ||