Bewafa Shayari

क्या अजीब सी ज़िद है

क्या अजीब सी ज़िद है..
हम दोनों की.
तेरी मर्ज़ी हमसे जुदा होने की..
और मेरी तेरे पीछे तबाह होने की..

Similar Posts

Leave a Reply

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)