दहेज से उधार चुकाना

ससुर: दामाद जी, शादी में आपके दोस्त पागलों की तरह क्यों नाच रहे थे?

दामाद: …क्योंकि मैंने उन्हें कहा था कि दहेज में मिले पैसों से

सबका उधार चुकता कर दूंगा।