Baba ji mera bhi

बाबा जी मेरा भी खाता खोल दो शिरडी दरबार में,
बाबा जी आता जाता रहूँ मैं शिरडी की पवित्र भूमी पर
बाबा जी जो भी सेवा हो मेरी लगा देना,
बस अपने चरणों का दास बना कर शिरडी में रख लेना।