Home / Hindi Love Shayari / Jab Bhi Unki Gali Se Guzarta Hoon

Jab Bhi Unki Gali Se Guzarta Hoon

Jab Bhi Unki Gali Se Guzarta Hoon,

Meri Ankhein Ek Dastak De Deti Hai,

Dukh Ye Nahi, Wo Darwaja Band Kar Dete Hai,

Khushi Ye Hai, Wo Mujhe Ab Bhi Pahchan Lete Hai.

Check Also

कब सुधर जाए

< p class=”section1″> < p class=”Normal”>जियो की स्पीड, बीवी का मूड, रोहित की फॉर्म… . …

दुआ है कि आप की रात की अच्छी शुरुआत हो

दुआ है कि आप की रात की अच्छी शुरुआत हो; प्यार भरे मीठे सपनो की …

प्रकृति का तीसरा नियम

प्रकृति  का तीसरा नियम आपको  जीवन से जो कुछ भी मिलें  उसे पचाना सीखो क्योंकि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *