Pata nahi majak tha

पता नहीं मजाक था या प्यार का पैगाम लिखा था,

जब मैनें राधा और उसने श्याम लिखा था।